योग क्या है?

ध्यान से ज्ञान आता है; ध्यान की कमी अज्ञानता लाती है। अच्छी तरह जानो कि क्या तुम्हे आगे ले जाता है और क्या तुम्हे रोके रखता है, और उस पथ को चुनो जो ज्ञान की ओर ले जाता है।

योग शब्द संस्कृत की युज् धातु से बना है जिसका अर्थ होता है जोड़ना यानी शरीर मन और आत्मा को एक सूत्र में जोड़ना योग के महान ग्रंथ पतंजलि योग दर्शन के बारे में कहा गया है यानी योग मन की मृत्यु पर निरंतर करना ही योग है गीता में कहा गया है योग कर्मसु कौशलम् यानी कमों के कौशल या दक्षता ही योग है।


संक्षेप में कहें तो योग केवल शारीरिक व्यायाम करने और रोगों को दूर करने वाली प्रक्रिया नहीं है बल्कि जीवन को बेहतर बनाने की एक जीवन पद्धिति है ।


1. एक युग में कुछ ऐसे आसान है जिनका अभ्यास करने से आप पेट संबंधित रोगों को दूर कर सकते हैं जिसमें कब्ज अपच पेट फूलना इत्यादि।
2. जिन लोगों को नींद ना आने की बीमारी है उन्हें बार-बार नींद से उठ जाने की आदत है अगर वह योगासन करते हैं तो उनकी आनिद्रा की बीमारी दूर हो जाती है।
3. तनाव उन्माद घबराहट और क्रोध को दूर करने के लिए योग अत्यंत सहायक है योग
4. कमर का दर्द, गले का दर्द, घुटने का दर्द या सिर में दर्द हो तो योग के नियमित अभ्यास से आप शरीर के सभी दर्दों से छुटकारा पा सकते हैं।
5. कमर की चर्बी, पेट की चर्बी, निकला हुआ पेट या गले की चर्बी को दूर करने के लिए प्रतिदिन योगाभ्यास करने से हर छोटी-बड़ी समस्या से छुटकारा मिल जाता है।


हमारा पता

नियर रॉयल पब्लिक स्कूल, दुर्गा नगर, बरेली-243006
ऑफिस न०- 9027340690
एडमिशन के लिए तत्काल सम्पर्क करें- 7983080206, 9411893881
ई-मेल- shreerseducational123@gmail.com